योगियों में सर्वश्रेष्ठ योगी!!! [BG 6.47]